मोस्ट वान्टेड सरगना रौशन ठाकुर को बोकारो पुलिस ने कोलकाता से किया गिराफ्तार

अन्तरप्रांन्तीय गिरोह राजेश सिह के सहलाहकार और मोस्ट वान्टेड सरगना रौशन ठाकुर को बोकारो पुलिस ने कोलकाता, पश्चिम बंगाल से गिराफ्तार करके लाई बोकारो। बोकारो पुलिस को मोकामा के राजेश सिंह गिरोह के दो सदस्यो को एक हफ्ते के भीतर दो मुख्य सरगना को गिरफ्तार करके ये जता दिया है कि बहुत कि जल्द मुख्य सरगना राजेश सिंह होगा सलाखो के पीछे।

मुख्य तौर पर रेलवे के ठेका मेनेज हो या सेल या सीसीएल का इस गिरोह का  वरदहस्त जिस पर रहता था उसी को मिलता है कोई ठेका। क्योकि इन लोगो के धमकी से विरोधी ठेकेदार टेन्डर नही डालता है और ये गैग जिसको दिलाना चाहता है उसको मिल जाता है और बदले मे मिलती है मोटी रकम। जिसे गुन्डा टेक्स कहा जाता है। इसमे नही माननेवालो के यहाॅ फायरीग करके पहले डराना फिर नही मानने पर उसकी हत्या भी कर देता था। साल 2016 मे रेलवे ठेकेदार लवली तिवारी इसका उदाहरण है। जिसकी बालिडीह थाना क्षेत्र मे उस समय हत्या कर दी गई थी जब वो अपने कार्यालय मे था।

बोकारो के सेक्टर 12 थाना क्षेत्र के बारिकाॅपरेटीभ मे पिछले दिनो 10 फरवरी को रेलवे ठेकेदार अशोक श्रीवास्तव के यहाॅ देर रात को गोली चली थी जिसमे इसी गिरोह का हाॅथ था। साथ ही साल 2016 मे रेलवे ठेकेदार लवली तिवारी के हत्या मे भी इसी गिरोह का हाॅथ था। एैसे मे कई कोन्डो मे रौशन ठाकुर भी संलिप्त था।

बोकारो के एसपी ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि बहुत जल्द ही गिरोह को मुख्य सरगना को पकडा जायेगा। जो भी गिरोह इस तरह से संगठीत होकर काम कर रही है और अपराध को बढावा देने का काम कर रही है उसे छोडा नही जायेगा। बोकारो पुलिस एैसे अवराधियो पर नकेल कसने का काम करेगी।

कार्तीक एस0, बोकारो एसपी। 

संबंधित समाचार