इंसानों ने बांट दिया भगवान को, अब मत बांटो हिन्दुस्तान को.. कमाल खान


विश्व संकट तथा शांति पथ को लेकर जमआत अहमदिया रांची द्वारा पाम रिसोर्ट में कार्यशाला का आयोजन

मुजिबुल/RATU :: जब तक हिन्दुस्तान में हिन्दू, मुस्लिम, सिख, ईसाई सहित सभी धर्म के लोग एक होकर रहेंगे तब तक हमारे हिन्दुस्तान को कोई आंख उठाकर नहीं देख सकता। हमारा हिन्दुस्तान धर्मनिरपेक्ष राष्ट्र है यहां सभी धर्म के लोग एक साथ रहते है। यह बात झारखंड सरकार अल्पसंख्यक आयोग के अध्यक्ष कमाल खान ने कही। कमाल खान रविवार को जमआत अहमदिया की ओर से पाम रिर्सोट तिलता में शांति पथ को लेकर आयोजित कार्यशाला में बतौर मुख्य अतिथि बोल रहे थे।

आगे उन्होंने कहा कि हम लड़ क्यों रहे हैं, जब सभी धर्म के लोगों ने भगवान, पैगम्बर, ईसामसीह, गुरू गोबिदं सिंह, गुरू नानक देव, भगवान महाबीर सहित अपने-अपने को बांट लिया है। सभी धर्म के अपने इष्ट्र देव है। हमें तो देश में अमन शांति के लिए एक होकर रहना है।

सभी धर्मो के वक्ताओं ने भी कहा कि जब हम एक परमेश्वर के पुत्र हैं, एक धरती पर रहते हैं, एक ही रंग में रंगे हैं, हमारे रास्ते बेशक अलग है। पर हम सभी को परमात्मा के पास ही आगे जाना है। शांति की खोज में आज पूरा देश एक है। इसलिए हर धर्म के लोग मिलकर इस विश्व संकट तथा शांति पथ के लिए साथ आगे आए।

कार्यशाला को मौलाना अकबर खान, मौलाना हारून रशीद दोनों जमात अहमदिया के प्रचारक, ईसाई समुदाय से ललित मुर्मू, अल्पसंख्यक समुदाय के सदस्य नुसरत जहां, सिख समुदाय से जोगिंदर सिंह और गुरविंदर सिंह सेठी, आरएसएस के संजय आजाद, उमेश ओझा, सीपीआईएम के सुभाष मुंडा, गायत्री परिवार से जटाशंकर झा सहित कई गणमान्य लोगों ने इसे कार्यशाला में अपने विचार रखे। कार्यशाला का संचालन नुरुल होदा ने किया। इस कार्यशाला का आयोजन जमआत अहमदिया रांची द्वारा किया गया था।

संबंधित समाचार