एल.पी.जी. बॉटलिंग प्लांट का बोकारो में शिलान्यास

बोकारो :: बियाडा के औद्योगिक क्षेत्र में 20 एकड़ भूमि पर निर्माणाधीन यह ‘एल.पी.जी. बॉटलिंग प्लांट’ झारखंड में गैस वितरण के लिए सिलेंडर रिफिल टर्मिनल पॉइंट होगा। यहां से पूरे झारखंड राज्य में भरे हुए गैस सिलेंडर का वितरण होगा। वहीं राधा नगर ग्राम में 73 एकड़ जमीन पर निर्माणाधीन इस आयल डिपो में तेल का भंडारण किया जाएगा। इस आयल डिपो से पुरे झारखंड के पेट्रोल पंप में पेट्रोल-डीजल का वितरण किया जाएगा। बीपीसीएल द्वारा राधा नगर में निर्माणाधीन ऑयल डिपो में फिलहाल तेल की आपूर्ति ट्रेन के माध्यम से की जाएगी। मगर निकट भविष्य में इसे असम स्थित नुमालीगढ़ रिफायनरी से पाइप के माध्यम से जोड़ दिया जाएगा। नुमालीगढ़ रिफाइनरी से पाइप से जुड़ने के बाद इस ऑयल डिपो में तेल का अनवरत आपूर्ति सुनिश्चित हो जाएगी।

झारखण्ड के मुख्यमंत्री रघुवर दास तथा केंद्रीय मंत्री पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस श्री धर्मेंद्र प्रधान ने बोकारो के राधानगर गांव में 250 करोड़ की लागत से बन रहे आयल डिपो तथा बियाडा के औद्योगिक क्षेत्र में 100 करोड़ के लागत से बन रहे एल.पी.जी. बॉटलिंग प्लांट का संयुक्त रुप से शिलान्यास करते हुए दोनों परियोजना को बोकारो वासियों को सहर्ष सुपूर्त किया।

बोकारो के सेक्टर 5 स्थित पुस्तकालय मैदान में आयोजित भव्य कार्यक्रम में, हजारों की संख्या में उपस्थित बोकारोवासियों के बीच, भारत पेट्रोलियम कार्पोरेशन लिमिटेड के द्वारा बनाये जा रहे उक्त दोनों परियोजनाओं का शिलान्यास शिलापट्ट के अनावरण कर किया गया।

सिलापट्ट के अनावरण के उपरांत माननीय मुख्यमंत्री श्री रघुवर दास ने कहा कि उक्त दोनों परियोजनाओं से बोकारो जिले में लगभग 1000 लोगों को प्रत्यक्ष रोजगार मिलेगा। वहीं कई हजार लोगों को भी इन परियोजनाओं से अप्रत्यक्ष रूप से रोजगार मिलेगा। मुख्यमंत्री श्री दास ने यह भी कहा कि किसी भी क्षेत्र का विकास वहां पेट्रोल और डीजल के खपत में हुई बढ़ोतरी से नापा जा सकता है। देश के बड़े शहरों में 7-8% की दर से पेट्रोल डीजल की खपत बढ़ रही है, वहीं झारखंड के बड़े शहरों में 15% की दर से पेट्रोल- डीजल की मांग में बढ़ोतरी दर्ज की गई है। यह आंकड़ा इस बात का सूचक है कि झारखंड देश के अन्य हिस्सों के मुकाबले दोगुनी रफ्तार से विकसित हो रहा है।

कार्यक्रम के दौरान मुख्यमंत्री श्री दास ने यह घोषणा भी किया कि आगामी कृष्ण जन्माष्टमी के दिन झारखंड राज्य के सभी 5 प्रमंडलों में विशेष कार्यक्रम आयोजित कर श्उज्जवला योजनाश् की लाभुक सभी 43 लाख महिलाओं को राज्य सरकार की तरफ से दूसरा भरा हुआ सिलेंडर मुफ्त दिया जाएगा। यह झारखंड की की बहनों को मुख्यमंत्री की तरफ से राखी के त्यौहार का उपहार होगा।

वही अपने संबोधन में केंद्रीय मंत्री पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस मंत्रालय श्री धर्मेंद्र प्रधान ने कहा कि बियाडा में लगाए जा रहे एलपीजी बॉटलिंग प्लांट से रोजाना ढाई सौ ट्रक बोकारो से निकलेंगे और राज्य के विभिन्न शहरों में गैस की सप्लाई करेंगे। इसकी वजह से भी बहुत से लोगों को प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष रूप से रोजगार मिलेगा। उन्होंने जानकारी देते हुए यह भी बताया कि झारखंड में पेट्रोल की डिमांड कर 4 वर्षों में 61ः बढ़ी है। यह इस बात को दर्शाता है कि लोग साइकिल से मोटरसाइकिल की तरफ बढ़ रहे हैं और यह झारखंड के आर्थिक सामाजिक विकास का बहुत ही बड़ा सूचक है।

केंद्रीय मंत्री श्री प्रधान ने यह भी घोषणा की कि आने वाले वर्षों में कुल 10,000 करोड रुपए पेट्रोलियम व औद्योगिक क्षेत्र में लगाए जा रहे विभिन्न परियोजनाओं व कारखानों में खर्च किए जाएंगे। भारत सरकार का लक्ष्य है कि 2030 तक 300 मिलियन टन स्टील का प्रोडक्शन पूरे देश में होगा जिसका एक बहुत बड़ा हिस्सा झारखंड राज्य से आएगा।

अंत में उन्होंने माननीय प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी के पूर्वी भारत के चैमुखी विकास के सपने को दर्शाते हुए कहा कि श्पूर्वी भारत का विकास होगा तभी भारत का विकास होगा।

इस कार्यक्रम में सांसद गिरिडीह लोकसभा क्षेत्र, सांसद धनबाद लोकसभा क्षेत्र श्री पी.एन. सिंह, सांसद पुरुलिया लोकसभा क्षेत्र श्री ज्योतिर्मय महतो, माननीय मंत्री राजस्व एवं भूमि सुधार, कला संस्कृति खेल और युवा कार्य विभाग झारखंड सरकार श्री अमर कुमार बाउरी, विधायक बेरमो श्री योगेश्वर महतो बाटुल, माननीय विधायक बोकारो, डीआईजी श्री प्रभात कुमार, बोकारो के उपायुक्त श्री कृपानंद झा, बोकारो के पुलिस अधीक्षक श्री पी. मुरूगन, उप विकास आयुक्त श्री रविरंजन मिश्रा सहित जिला प्रशासन के सभी पदाधिकारी, सेल के सभी पदाधिकारी एवं हजारों की संख्या में बोकारो वासी उपस्थित थे।

संबंधित समाचार

error: Content is protected !!