आपातकाल से भी ज्यादा राज्य में हैं बुरे हालात : माकपा

दीपक भगत/CHANDWA  :: आपातकाल से भी ज्यादा राज्य मे हैं बुरे हालात, मुख्यमंत्री के सामने पारा शिक्षकों व मीडिया कर्मियों पर हुआ अत्याचार, पारा शिक्षकों को धमकाने के बजाय सरकार हठधर्मी छोड़ संघ से वार्ता कर हड़ताल अविलंब खत्म कराए! उक्त बातें माकपा के झारखंड राज्य सचिवमंडल सदस्य सह लातेहार जिला प्रभारी संजय पासवान ने चंदवा मे एक प्रेस कॉन्फ्रेंस आयोजित कर कही।

संजय पासवान ने चतरा से रांची जाने के क्रम में चंदवा के होटल मातृ छाया मे कार्यकर्ताओं से मिलने के बाद एक प्रेस कॉन्फ्रेंस की और कहा स्थापना दिवस पर मोरहाबादी मैदान में मुख्यमंत्री के सामने पारा शिक्षकों व मीडिया कर्मियों पर बर्बर लाठीचार्ज उसके बाद बड़ी संख्या मे आंदोलित पारा शिक्षकों की गिरफ्तारी, यह दर्शाता है कि राज्य मे आपातकाल से भी बुरे हालात हैं।

उन्होने राज्य सरकार को सभी मोर्चों पर विफल बताया व आगे कहा कि पारा शिक्षकों की जो मांगे हैं वह जायज है।  पारा शिक्षकों को धमकाने के बजाय सरकार पारा शिक्षक संघ से तत्काल वार्ता करे और उनकी मांगो को पुरा कर जारी हड़ताल को समाप्त कराए।

प्रेस कॉन्फ्रेंस मे अम्बेडकर विचार मंच के राष्ट्रीय अध्यक्ष जैनेंद्र कुमार, झारखंड राज्य किसान सभा लातेहार के जिला अध्यक्ष सह माकपा नेता अयुब खान, माकपा जिला कमिटि सदस्य बैजनाथ ठाकुर, व अन्य उपस्थित थे।

संबंधित समाचार