‘खोरठा साहित्य संस्कृतिक मंच’ का गठन

आज 11-03-2018 को ‘खोरठा साहित्य संस्कृतिक मंच’ नाम का एक संगठन का गठन किया गया जिसकी अध्यक्षता खोरठा साहित्यकार  प्यारे हुसैन प्यारे ने की. जिसकी बैठक समुदायिक भवन, बारहमसिया, दुबे काटा मोड़, चन्दकियारी, बोकारो में किया गया.

 ‘खोरठा साहित्य संस्कृतिक मंच’ के गठन से सम्बंधित इस बैठक में खोरठा भाषा के अनेक कवि, लेखक, साहित्यकार व बुद्धिजीवीयो की गरिमयी उपस्थिति रही.  ‘खोरठा साहित्य संस्कृतिक मंच’ का मुख्य उद्देश्य खोरठा भाषा का विकास एवं विस्तार, संस्कृति की रक्षा करना व खोरठा के उत्थान में निरंतर संघर्ष करना, नए युवा लेखक, कलाकारों को उचित स्थान व सम्मान देना. साथ ही मंच पुरे झारखंड के साथ-साथ अन्य खोरठा क्षेत्रों के लोक-कलाकार तथा प्रतिभाशाली योवओं को सम्मान देना. इस कार्य के लिए  ‘खोरठा साहित्य संस्कृतिक मंच’ द्वारा  सदस्यता-अभियान भी चलाने का सर्वसम्मति से निर्णय लिया गया.

‘खोरठा साहित्य संस्कृतिक मंच’ की प्रथम कार्यकारिणी समिति में मुख्या पदाधिकारी इस प्रकार है :-

अध्यक्ष  – असित कुमार चक्रवर्ती,

उपाध्यक्ष – डॉ नागेंद्र नाथ महतो,

सचिव    – कुमुद महतो,

कोषाध्यक्ष – प्यारे हुसैन प्यारे

सलाहकार – खोरठा लिपि के शोधकर्ता डॉ नागेश्वर महतो

इस बैठक में सीता राम महतो, निरोध महतो, पदमा वाला देवी, नूनी वाला उरांव , लक्ष्मी महतो, नील कमल महतो,उमाकांत रजवार, श्याम पद दास आदि अनेक खोरठा रचनाकार उपस्थित थे.

संबंधित समाचार

error: Content is protected !!