देवघर में जिला स्तरीय माहवारी स्वच्छता पर पांच दिवसीय आवासीय प्रशिक्षण का उद्घाटन

श्रवण/DEOGHAR :: स्वच्छ भारत मिशन (ग्रामीण) देवघर अंतर्गत जिला स्तरीय माहवारी स्वच्छता पर पांच दिवसीय आवासीय प्रशिक्षण का उद्घाटन उपायुक्त राहुल कुमार सिन्हा द्वारा किया गया। इस दौरान उन्होंने कहा कि दिनांक-22.10.2018 से 26.10.2018 तक महिलाओं के मासिक धर्म के दौरान व्यक्तिगत स्वच्छता और समाज में व्याप्त भ्रांतियों को दूर करने के लिए जिला में विशेष जागरूकता अभियान चलाया जाएगा। उपायुक्त द्वारा बतलाया गया कि स्वच्छता का हमारे जीवन में काफी महत्व है फिर चाहे वो हमारे आस-पास का जगह हो या फिर स्वयं का शरीर अगर हमारे आस-पास साफ, स्वच्छत होगा हमें एक स्वस्थ्य एवं स्वच्छ वातावरण मिलता उसी प्रकार हमारा शरीर स्वच्छ होगा तो हम कई तरह के बीमारियों से अपना बचाव कर सकते है।

कार्यक्रम को संबोधित करते हुए उपायुक्त राहुल कुमार सिन्हा ने बतलाया कि जिस तरह लोगों की सोच शौचालय के प्रति बदली है। इसके प्रयोग केे प्रति जागरूक हुए हैं, वैसे हीं लोगों को माहवारी स्वच्छता के प्रति जागरूक होना होगा तथा लोगों की पुरानी सोच छोड़ कर एक साकारात्मक सोच रखना होगा तभी इस माहवारी प्रशिक्षण का उद्देश्य पूर्ण होगा। उन्होंने कहा कि सभ्य समाज में इस तरह की कुरीती मान्य नहीं है। इस अवधि के दौरान महिलाओं को स्वच्छ वातावरण नहीं मिलने से कई तरह की बीमारियां होने की आशंका बढ़ जाती है। इस कुरीती को खत्म करने के लिए जिला के सभी वर्गाें का सहयोग आवश्यक है।

उपायुक्त ने प्रशिक्षण में उपस्थित सभी महिलाओं, पुरूषों को संबोधित करते हुए कहा कि हमें माहवारी स्वच्छता प्रशिक्षण के साथ-साथ सभी को इस बात का भी प्रशिक्षण देना होगा कि वे लोगों से किस प्रकार बात करे, ताकि ज्यादा से ज्यादा लोगों को जागरूक किया जा सकें उपायुक्त द्वारा आगे बतलाया गया कि लोगों को जागरूक करना होगा कि उन खास दिनों में महिलाओं, बच्चियों से किसी प्रकार की दूरी न बनाएं ये कोई छुआछुत का विषय नहीं है। बल्कि ये एक नेचुरल प्रक्रिया है। हम सभी को उनकी मदद करनी चाहिए तथा सबसे जरूरी बात हम सभी को माहवारी स्वच्छता के विषय पर खुलकर बात करनी होगी तभी सहीं मायने में इस प्रकार के प्रशिक्षण का उद्देश्य सफल हो पायेगा।

इस दौरान उपायुक्त द्वारा जानकारी दी गयी कि माहवारी स्वच्छता प्रशिक्षण हेतु राँची से श्रीमती कोमल, श्रीमती सुमन, श्रीमती बर्खा एवं श्रीमती विदुशी द्वारा महिलाओं को प्रशिक्षण दिया जायेगा साथ हीं स्कूल, गाँव, पंचायत आदि में जाकर फिल्मों, नुक्कुड़ नाटक के माध्यम से भी लोगों को जानकारी दी जायेगी आगे उपायुक्त द्वारा जानकारी दी गयी कि इस प्रशिक्षण में जितने भी प्रशिक्षणार्थी प्रशिक्षण ले रहे है वे सभी प्रशिक्षण के उपरांत अपने-अपने क्षेत्र में मास्टर ट्रेनर के रूप में कार्य करेंगे तथा माहवारी स्वच्छता के प्रति लोगों को जागरूक करेंगी।

इस मौके पर उपरोक्त के अलावे पेयजल एवं स्वच्छता प्रमंडल, मधुपुर के कार्यपालक अभियंता अरविन्द कुमार मुर्मू, जिला समन्वयक सुजित त्रिवेदी, पंकज भूषण पाठक, विजय कुमार एवं जिले के विभिन्न पंचायतों से काफी संख्या में प्रशिक्षणर्थी उपस्थित थे।

संबंधित समाचार