उपमहापौर के अनशन पर महापौर भोलू पासवान ने चंद मुद्दों पर ध्यान आकृष्ट कराया

चास (बोकारो) :: आज दिनांक 15-01-2020 महापौर भोलू पासवान के द्वारा प्रेसवार्ता रखी गई जिसमें महापौर ने कहा कि उपमहापौर 3 दिनों से अनशन पर बैठे हैं और भ्रष्टाचार की बात कह रहे हैं । महापौर द्वारा कहा गया कि निगम के विकास कार्यों में हमेशा उपमहापौर के द्वारा अड़चन उत्पन्न किया गया है। कहा कि पिछले 5 साल में चास नगर निगम ने विकास की बहुत लंबी लकीर खींची है और बात रहा भ्रष्टाचार का कहीं सवाल नहीं उठता है।

जिनमें निम्नलिखित बातों को महापौर ने ध्यान आकृष्ट कराया:-

1. डस्टबिन वितरण से संबंधित:- चास नगर निगम के 35 वार्ड में निगम के द्वारा डस्टबिन वितरण के लिए सभी पार्षदों को दिया गया था जो आज तक डस्टबिन का वितरण सुचारू रूप से नहीं किया गया सिर्फ चेहरा को देखकर डस्टबिन को दिया गया जब मैंने डस्टबिन का रिसीविंग मांगा वह भी आज तक निगम में जमा नहीं किया गया।

2. LED लाइट से संबंधित:- सभी 35 वार्ड में एलईडी लाइट लगाने हेतु दो बार पार्षदों को लाइट दिया गया बहुत सारे पार्षदों ने लाइट को टेंट हाउस एवं अपने रिश्तेदारों के यहां बेच दिया।  इससे संबंधित में जब निगम के द्वारा लाइट की रिसीविंग एवं लगाए गए पोल को गिनती करने को कहां गया तो आज तक नहीं दिया गया।

नगर विकास विभाग द्वारा जब हमारे मांग को लेकर EESL कंपनी के द्वारा लाइट को प्रत्येक पोल पर लगाना हेतु सहमति बनी ओर सभी स्थानों पर लग रही है।

उपमहापौर के द्वारा मांग की जा रही है कि पार्षदों के घर में एलईडी रखा जाए जोकि जो कि विभाग में ऐसा कहीं भी दर्शाया गया नहीं है विभाग के द्वारा सीधा रूप से कहा गया है कि सारे विद्युत पोल पर एलईडी लाइट लगनी है।

3.बोर्ड बैठक का बहिष्कार:- बार-बार उपमहापौर के नेतृत्व में कुछ ठेकेदारों पार्षदों को ठेका लेने के नियत से एवं अपने चहेतों को ठेका देने के लिए बैठक का बहिष्कार किया गया महापौर द्वारा कहा गया कि बोर्ड बैठक एक आम बैठक होती है और बोर्ड बैठक में विकास से जुड़े मुद्दे को रखना सभी का अधिकार है मगर हर समय बोर्ड का मजाक मनाया जाता है कभी पार्षदों के द्वारा वोट की प्रोसिडिंग फाड़ दी जाती है तो कभी वोट का बहिष्कार किया जाता है।

04.प्रधानमंत्री आवास योजना: प्रधानमंत्री आवास योजना में वार्ड नंबर 15,16,20, 09,10,26,24,29,11,02, बराबर वहां के लाभुकों द्वारा सूचना मिलती रहती है कि प्रधानमंत्री आवास योजना में वार्ड पार्षद एवं उनके सुपरवाइजर के द्वारा घूस के रूप में 25000 की मांग की जा रही है। इस संबंध में वार्ड नंबर 10 के पार्षद शहनाज परवीन पर निगम के द्वारा F.I.R. भी किया गया।

05.निगम के पदाधिकारियों से संबंधित महापौर द्वारा कहा गया कि निगम गठन होने से आज तक निगम में कुल 5 पदाधिकारियों का निगम में आए क्या सब भ्रष्टाचार में लिप्त थे।  इन्होंने कार्यपालक पदाधिकारी कृष्ण कुमार के भी कार्यकाल में धरना प्रदर्शन किया। इन्होंने संदीप कुमार अपर नगर आयुक्त के कार्यकाल में भी धरना प्रदर्शन किया इन्होंने भीष्म कुमार के भी कार्यकाल में धरना प्रदर्शन किया इन्होंने जे०पी० यादव के कार्यकाल में भी धरना प्रदर्शन किया और अभी शशि प्रकाश झा के भी कार्यकाल में धरना प्रदर्शन किया जा रहा है।  क्या सभी पदाधिकारी भ्रष्टाचार थे।  हमेशा इन्होंने अपने बाप को मनाने के लिए निगम के निगम में दबाव बनाने के लिए धरना प्रदर्शन का प्रयोग किया गया है और डिप्टी मेयर को जनता से चुनकर नहीं भेजा हैं। इन्होंने वार्ड पार्षद को पैसा देकर डिप्टी मेयर का पद हासिल किया इनका हमेशा मानसा यही रही है कि कि किसी भी तरह स्वयं लाभ ले सकें।

इन्होंने पूर्व के अपर नगर आयुक्त संदीप कुमार का वाहन भी दवा बनाकर ले लिया इसी के कारण अपर नगर आयुक्त ने निगम छोड़ दिया।

06.अमृत पार्क से समधित:- अमृत पार्क फेज वन को 11 लाख में संवेदक के द्वारा लिया गया था दोनों का निर्माण अलग-अलग समय में किया गया एवं मुख्य द्वार एक ही है इस पर माननीय महापौर के द्वारा कहा गया कि जनता को परेशानी ना हो सके इसके लिए टिकट काउंटर एक ही रहेगा नगर निगम को राजस्व की हानि ना हो इसीलिए उस पार्क को भी 1100000 पर दिया जाए ताकि निगम के को राजस्व की प्राप्ति हो सके लेकिन बराबर डिप्टी मेयर दबाव बनाते रहे हैं की अमृत पार्क फेस 2 न्यूनतम दर पर दिया जाए जो कि राजस्व की हानि है।

माथुर द्वारा कहा गया कि टिकट कटा एक ही रहेगा और जनता को एक ही पैसा देना होगा मगर पहले के संपादक को भी लेना हो तो यह नियंत्रण दर पर नहीं जितने मैसेज वन लिया गया है उतना ही मैं फेस टू भी लेना होगा और नहीं तो इसका ऑप्शन निगम के द्वारा किया जाएगा।
विश्व पर्यावरण दिवस के दिन वृक्षारोपण कार्यक्रम में वार्ड पार्षद पिंटू राय एवं पार्षद पति सुमन राय के द्वारा पार्क निर्माण के संवेदक अरविंदर सिंह से रंगदारी है रकम मांगी गई होने इस पर FIR भी किया गया।

पाक का ऑपरेशन एंड मेंटेनेंस नहीं किए जाने के कारण आज तक राजस्व का हानि हो रही है ।

07.निगम में समान आपूर्ति की सप्लाई देने से संबंधित:- वार्ड नंबर 19 के पार्षद नरेश प्रसाद द्वारा हमेशा संवेदक पर दबाव बनाया जाता है कि फेवर्स ब्लॉक उनके ही गोदाम से खरीदा जाए नहीं तो धरना पर बैठ जाता है, एवं वार्ड पार्षद वार्ड नंबर 13 के पार्षद पति सुबोध कुमार के द्वारा निगम में रंग रोहन कार्य हेतु समान तिरुपति पेंट से समान खरीदने को कहा और संविदा पर भी लगातार दबाव बनाया जाता है जाता है नहीं खरीदने पर नाराज़गी व्यक्त की जाती हैं।

संबंधित समाचार

error: Content is protected !!