बोकारो में अन्तर्राष्ट्रीय महिला दिवस

अन्तर्राष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर जिला प्रशासन एवं स्वच्छ भारत मिशन के संयुक्त तत्वाधान में कला संस्कृति भवन चास बोकारो में स्वच्छता शक्ति सप्ताह के अंतिम दिन कार्यक्रम का आयोजन किया गया, जिसमें मुख्य अतिथि के रूप में माननीय मंत्री झारखण्ड सरकार श्री अमर कुमार बाउरी उपस्थित थे। माननीय मंत्री अमर कुमार बाउरी ने कहा कि झारखण्ड सरकार के प्रमुख एजेण्डा में महिलाओं का सशक्तिकरण भी शामिल है, क्योंकि महिलाएँ इस देश की आधी आबादी है।

माननीय मंत्री श्री बाउरी ने कहा कि महिलाओं ने वर्तमान समय में देश को ऊँचाईयों पर पहुँचाने का काम किया है। आज बेटियाँ स्वच्छता की प्रतिक बनती जा रही है। उन्होंने कहा कि पूर्व का समाज शारीरिक रूप से मजबुत पुरूषों पर निर्भर करता था। लेकिन वर्तमान में समाज मानसिक शक्ति के आधार पर मजबुत माना जाता है। आज की महिलाएँ किसी भी दृष्टिकोण से पुरूषों से कम नहीं है। उनके अनुसार महिलाएँ आज रक्षा जैसे विभागों में कार्य करते हुए देश की सुरक्षा में महत्वपूर्ण भूमिका निभा रही है। आज कई महिलाएँ देश की सीमा पर चैकसी के साथ देश की सुरक्षा कर रही है। माननीय मंत्री ने कहा कि महिलाएँ आज आईएस, आईपीएस, वैज्ञानिक सहित कई महत्वपूर्ण पदों पर विराजमान है।

माननीय मंत्री श्री बाउरी ने कहा कि ग्रामीण क्षेत्रों में भी महिलाएँ काफी बढ़-चढ़ कर आगे आयी है। उनके अनुसार झारखण्ड सरकार ने पंचायती राज व्यवस्था में महिलाओं को 50 प्रतिशत के आरक्षण का लाभ देकर महिला सशक्तिकरण का काम किया है। उन्होंने कहा कि महिलाओं को रोजगार दिलाने हेतु भारत सरकार की योजनाओं के अतिरिक्त झारखण्ड सरकार ने जोहार योजना की शुरूआत की है। जिससे महिलाएँ ऋण प्राप्त कर स्वयं का व्यवसाय कर सकेंगी। उन्होंने वर्तमान समाज को महिला और पुरूष के बीच किये जाने वाले विभेद की विचारधारा से उपर उठकर समान सोच रखने को कहा। खेल मंत्री अमर कुमार बाउरी ने इस मौके पर कहा कि कानून बनाने से ही समाज में परिवर्तन नहीं आ सकेगा इसके लिये समाज को भी कुछ करना होगा ।

उपायुक्त मृत्युंजय कुमार बरणवाल ने कहा कि बोकारो में महिलाएँ स्वच्छ भारत अभियान को काफी गति प्रदान किया है। महिलाओं के सहयोग के कारण आज बोकारो में लगभग 65 प्रतिशत शौचालय बन पाये है। उनके अनुसार आज महिलाओं के सम्मान का दिवस हैं।

कार्यक्रम के दौरान चंदनकियारी की रानी मिस्त्री, लता देवी, रेखा देवी, बैशाखी देवी, यशोदा देवी, बेला देवी एवं कसमार की सावित्री देवी, उर्मिला देवी एवं चुम्मों देवी को प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया गया।

वहीं बेरमो प्रखण्ड जरीडीह पूर्वी की मुखिया कंचन देवी, बेरमो प्रखण्ड बोरिया उतरी की मुखिया तुलिया देवी, पेटरवार प्रखण्ड चलकरी उतरी की मुखिया निशा देवी, कसमार प्रखण्ड अन्तर्गत दुर्गापुर पंचायत की मुखिया सरीता देवी को भी शॉल देकर सम्मानित किया गया।

कार्यक्रम के दौरान, जिला परिषद अध्यक्षा सुषमा देवी, बीस सुत्री उपाध्यक्ष लक्ष्मण कुमार नायक, जिला परिषद सदस्य अनिता देवी, निशा हेम्ब्रम, गीता देवी, संजय कुमार, विजय रजवार, नवीन महतो, डीपीएलआर एस.एन.उपाध्याय, जिला समाज कल्याण पदाधिकारी सुमन गुप्ता, आवासीय दण्डाधिकारी मेनका, प्रखण्ड विकास पदाधिकारी चास कपिल कुमार सहित महिला स्वयं सेविका एवं अन्य पदाधिकारीगण उपस्थित थे।

संबंधित समाचार