स्पिक मैके द्वारा डीपीएस बोकारो में राजस्थानी लोकसंगीत व लोकनृत्य कार्यक्रम

कला-संस्कृति के कारण भारत की विश्व में अद्वितीय पहचान : डाॅ हेमलता

पुष्पेश/BOKARO :: भारतीय शास्त्रीय व लोकसंगीत एवं कला को युवाओं के बीच प्रचारित-प्रसारित करने में जुटी संस्था ‘स्पिक मैके’ के तत्वावधान में दिल्ली पब्लिक स्कूल, सेक्टर 4 में गुरुवार को भव्य सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन हुआ। विद्यालय के अश्वघोष कला भवन में आयोजित इस कार्यक्रम में राजस्थान से आए कलाकारों ने राजस्थानी लोकसंगीत, वाद्ययंत्र प्रस्तुति, भवाई एवं कालबेलिया नृत्य प्रस्तुत कर सैकड़ों विद्यार्थियों व शिक्षकों का मन जीत लिया। कलाकारों ने राजस्थान का मशहूर स्वागत गीत ‘केसरिया बालम पधारो म्हारे देश…’, ‘निंबुड़ा, निंबुड़ा, निंबुड़ा…’ व अन्य गीतों की सुंदर प्रस्तुति से समां बांध दिया।

लोकगीत के बाद कलाकारों ने राजस्थान का प्रसिद्ध भवाई व कालबेलिया नृत्य की अद्भुत छटा बिखेर कर सबको आनंदित किया। नृत्य कार्यक्रम में कलाकारों की साधना स्पष्टरुप से झलक रही थी। कलाकारों ने सुरम नाथ कालबेलिया के नेतृत्व में इलम दीन खान (ढोलक), शाबिर खान (हारमोनियम), सिकंदर खान (अलगुजा), दिनेश नाथ (डफली व खड़ताल), रंचोर भट्ट (कठपुतली नृत्य), आशा व पूजा सपेरा (नृत्यांगना) ने अपनी मोहक प्रस्तुतियों से सबको मंत्रमुग्ध कर दिया।

सुरम नाथ कालबेलिया ने भारतीय संगीत व कलाओं को बढ़ावा देने तथा युवाओं के बीच प्रसारित करने के लिए ‘स्पिक मैके’ द्वारा किए जा रहे प्रयासों व उसे मूर्तरुप देने में डाॅ हेमलता एस मोहन के योगदान की प्रशंसा करते हुए इनके प्रति कृतज्ञता व्यक्त की।

स्पिक मैके, झारखंड राज्य इकाई की सचिव सह डीपीएस, बोकारो की निदेशक व प्राचार्या डाॅ. हेमलता एस. मोहन ने कलाकारों को प्रतीक चिन्ह् भेंट कर सम्मानित किया और कहा कि भारत की सांस्कृतिक समृद्धि इन कलाकारों में ही निहित है और हमें अपनी कला-संस्कृति का सम्मान करना चाहिए क्योंकि इसी से हमारे देश की विश्व में अद्वितीय पहचान है। उन्होंने कहा कि भारतीय सांस्कृतिक विरासत के संरक्षण व प्रचार-प्रसार में ‘स्पिक मैके’ का योगदान प्रशंसनीय रहा है। युवाओं खासकर विद्यार्थियों को भारत की बहुरंगी सांस्कृतिक विरासत से परिचित कराने में स्पिक मैके का महत्वपूर्ण योगदान है। इस अवसर पर उपप्राचार्य प्रवीण कुमार शर्मा, उपप्राचार्या डाॅ मनीषा तिवारी, हेडमिस्ट्रेस मनीषा शर्मा एवं शालिनी शर्मा (हेडमिस्ट्रेस), गतिविधि प्रभारी महुआ सिंह सहित सभी शिक्षक व विद्यार्थी उपस्थित थे।

संबंधित समाचार