बोकारो उपायुक्त ने जिले के प्रथम प्रेसवार्ता का आयोजन आने वाली योजनाओ की दी जानकारी

कृष्णा दत्ता/BOKARO :: बोकारो के उपायुक्त मुकेश कुमार ने बोकारो जिले में अपनी प्रथम प्रेसवार्ता कर प्रेस एवं मीडिया के प्रतिनिधियों को आने वाले कुछ समय में बोकारो जिले में जिला प्रशासन द्वारा किए जाने वाले महत्वपूर्ण कार्यों व योजनाओं की विस्तृत जानकारी दी।

उपायुक्त श्री कुमार ने जानकारी देते हुए बताया कि अगले 1 सप्ताह के अंदर केंद्र सरकार की महत्वाकांक्षी प्रधानमंत्री किसान मानधन योजना के तहत 25,000 लघु व सीमांत किसानों को आच्छादित करने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। इस कार्य को प्राथमिकता देते हुए सभी बी.एल.ई., पंचायत सेवक, रोजगार सेवकों आदि को किसानों के बीच इस योजना से जुड़ने के लिए जानकारी व प्रेरणा प्रदान करने का काम में लगाया गया है।*

साथ ही आने वाले कुछ दिनों के अंदर किसानों को इस योजना से बड़ी संख्या में जुड़ने की प्रेरणा देने के लिए शनिवार को सभी ग्रामों में किसान गोष्ठी व ग्रामसभा का आयोजन किया गया है। इन ग्राम सभाओं में बोकारो के उपायुक्त व सभी जिला स्तरीय पदाधिकारी स्वयं उपस्थित रहकर लघु व सीमांत किसानों को पीएम किसान मानधन योजना की जानकारी देते हुए से जुड़ने के लिए प्रेरित करेंगे। साथ ही उपायुक्त मुकेश कुमार ने जानकारी देते हुए बताया कि लाइवलीहुड ( आजीविका) मिशन के तहत् कुछ पंचायतों को सिलाई विलेज बनाने की योजना है। इस योजना के अंतर्गत इन ग्रामों में उच्च क्वालिटी की सिलाई की ट्रेनिंग देने के लिए एवं महिलाओं को सिलाई का काम करने के लिए स्थान व उपकरण प्रदान किए जाएंगे। यहां महिलाएं किसी भी वक्त आकर कार्य कर सकेंगी। यहां बनाए जाने वाले कपड़ों की दर सरकार निर्धारित करेगी व काम के आधार पर महिलाओं को मानदेय का भुगतान किया जाएगा। अगर कोई महिला ज्यादा कमाई करना चाहती हैं तो बिना किसी रुकावट के किसी भी वक्त कार्य कर सकेंगी।

उपायुक्त मुकेश कुमार ने जानकारी देते हुए यह भी बताया कि बहुत जल्द ही उच्च गुणवत्ता की सेनेटरी नैपकिन बनाने का लघु उद्योग लगाया जाएगा। इस उ़द्योग में बनने वाले सेनेटरी नैपकिन कम कीमत मगर विश्वस्तरीय गुणवत्ता के होंगे जिससे महिलाओं को काफी सुविधा होगी। सेनेटरी नैपकिन कारखाने को डीएमएफटी या जिला अनाबद्ध राशि के फंड से बनाया जाएगा। इस उद्योग से प्राप्त होने वाले लाभ को कर्मियों के बीच वितरीत कर दिया जायेगा।

उन्होंने मीडिया के बंधुओं को जानकारी देते हुए यह भी बताया की समाहरणालय में प्लास्टिक के कप, प्लेट, गिलास आदि का उपयोग बंद कर दिया गया है तथा आगामी 2 अक्टूबर (गांधी जयंती) तक सभी सरकारी कार्यालयों को पूर्ण रूप से प्लास्टिक मुक्त बना दिया जाने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है।

उन्होंने जानकारी देते हुए यह भी कहा कि क्योंकि भलाई का काम कर से ही शुरु होता है इसलिए समाहरणालय सभागार में बिना हेलमेट पहने दोपहिया से आने वाले पदाधिकारियों व कर्मियों का प्रवेश पूर्णता वर्जित कर दिया गया है साथ ही कुछ समय के बाद समर नाले के गेट पर सीसीटीवी कैमरा लगा दिया जाएगा। और बिना हेलमेट के आए हुए दोपहिया चालकों पर जुर्माना भी लगाया जाएगा। इसके अलावा उन्होंने सभी मोटरसाइकिल चालकों से अपील किया है कि सभी ट्रैफिक नियमों का पालन करेंगे और खासकर बुलेट चलाने वाले अपनी गाड़ी की आवाज को बढ़ाने के लिए साइलेंसर का बदलाव नहीं करेंगेे। ऐसे बुलेट चालकों को निश्चित रूप से पकड़कर चालान किया जाएगा और ऐसी गलती दोहराने वाले बुलेट चालकों की गाड़ी को जप्त कर लिया जाएगा।

उन्होंने यह भी अपील की है कि कोई भी डीजे मालिक तेज आवाज में डीजे नहीं बजाएंगे इसकी वजह से बीमार लोगों को और खासकर पढ़ने वाले बच्चों को काफी दिक्कत होती है। यह हरकत जिला प्रशासन कतई बर्दाश्त नहीं करेगी और ऐसे डी0जे0 मालिकों का सारा उपकरण जब कर लिया जाएगा। अंत में उन्होंने यह भी बताया कि किसी भी प्रकार का अतिक्रमण जिला प्रशासन बर्दाश्त नहीं करेगी। अगर कोई भी व्यक्ति अतिक्रमण करता है तो उस पर एफआइआर किया जाएगा व अतिक्रमण हटाने की राशि की वसूली उसी व्यक्ति से की जाएगी। उन्होंने यह कहा है कि खासकर सक्षम लोग यदि अतिक्रमण करते हैं तो उन पर निश्चित तौर पर कार्रवाई करते हुए उनके अतिक्रमण को हटाया जाएगा और सारे खर्चे की वसूली की जाएगी।

इस प्रेस वार्ता के दौरान उप विकास आयुक्त रविरंजन मिश्र, अपर समाहर्ता विजय कुमार गुप्ता, नजारत उप समाहर्ता प्रभास दत्ता, जिला जनसंपर्क पदाधिकारी विकास कुमार हेंब्रम, सहायक जनसंपर्क पदाधिकारी राजीव रंजन सहित सभी प्रेस और मीडिया के बंधुगण उपस्थित थे।

संबंधित समाचार

error: Content is protected !!