सीसीएल प्रबंधन द्वारा विस्थापितो का शोषण अब बर्दाश नही -राजू खान

दिपांकर डे /BERMO :: सीसीएल के बीएण्डके प्रक्षेत्र के कारो परियोजना के विस्थापितों ने बेरमो अंचल कार्यालय में टाइगर फोर्स के बोकारो जिला अध्यक्ष राजू खान के नेतृत्व में बेरमो सीओ एम एन मंसूरी से स्व० यदु सिंह के वंशज मेघनाथ सिंह और सीसीएल प्रबंधन के बीच समझौता पत्र को लेकर मिले। यहां पहले से मौजूद बेरमो एसडीम प्रेम रंजन से मिलकर ग्रामीणों ने अपनी समस्या को रखते हुए न्याय की गुहार लगाई।

विस्थापितों ने कहा कि सीसीएल से वार्ता में मुआवजा और नौकरी देने की बात कही गई। लेकिन प्रबंधन बिना मुआवजा दिए अपना कार्य कर रही है। और कार्य को रोके जाने पर प्रशासन को बुलाकर झूठा मुकदमा करने की धमकी देता है। ग्रामीणों ने कहा जब तक मुआवजा नहीं दिया जायगा तब तक उक्त ग्रामीण की जमीन जो 1एकड 07 डीसमिल है, जिसका प्लॉट नंबर 358 और 371 है, जिसमें कार्य नहीं करें। ग्रामीणों ने कहा कि खदान घर के नजदीक आ गया है हैवी ब्लास्टिंग से घर क्षतिग्रस्त हो रहा है लेकिन प्रबंधन अपना उत्पादन लक्ष्य को प्राप्त करने मे लगा हुआ है।

इस पर एसडीएम प्रेम रंजन ने कहा कि प्रबंधन सुरक्षा नियमो का उल्लंघन अगर करती है तो आप लोग हमें लिखित आवेदन दें जिसे डीजीएमएस को भिजवा कर निरीक्षण करवाया जाएगा। अगर प्रबंधन गलत है तो काम वहां बंद कर दिया जाएगा। साथ ही कहा कि ग्रामीण माइन्स जाकर कार्य बाधित करता है तो हमें कानून के तहत कार्रवाई करनी पड़ेगी। एसडीएम ने कहा कि सेटलमेंट कर दो एकड़ जमीन की व्यवस्था कीजिए उस पर नौकरी दिलवाने का कार्य किया जाएगा। उन्होंने कहा कि अगर आप लोगों को लगता है कि जमीन का मुआवजा प्रबंधन द्वारा सही नहीं लगाया जा रहा है तो आप लोग कोर्ट में अपना हक के लिए जा सकते हैं।

राजू खान ने कहा कि विस्थापितो की समस्या का समाधान जल्द से जल्द सीसीएल प्रबंधन और प्रशासन के आला अधिकारी मिलकर समाधान करें अन्यथा बाध्य होकर उग्र आंदोलन किया जाएगा जिसकी जवाबदेही सीसीएल प्रबंधन की होगी। विस्थापितो का शोषण अब सीसीएल प्रबंधन द्वारा बर्दाश नही किया जायेगा।

मौके पर मेघनाथ सिंह, तुलसी विश्वकर्मा, बिकास सिंह, जीबू विश्वकर्मा, अजय गंजू, विकी गंजू, रेवत विश्वकर्मा, लोहा सिंह, सुरेश तुरी, कौशल्या देवी, भानु महतो, कमल महतो सहित सैकड़ों कारों के विस्थापित मौजूद थे।

संबंधित समाचार