बोकारो की जनता को दहशतज़दा होने की कोई जरुरत नहीं है : SP कार्तिक एस.

बोकारो ज़िला के वर्तमान एसपी कार्तिक एस. के साथ एक लघु-साक्षात्कार

बोकारो ज़िला के वर्तमान एसपी कार्तिक एस. विगत एक माह से विभागीय कार्यक्रम के कारण बोकारो में नहीं रहे थे जिस दौरान अस्थाई तौर पर पदस्थापित आईपीएस निधि उनके कार्यों का निर्वहन करती रहीं. यहाँ किसी एसपी विशेष की बात नहीं हो रही पर विगत दो माह में चोरियों की घटनायें काफी बढ़ीं. बोकारो के करीब सभी प्रखंडो में चोरी और छिनतई के वारदात साप्ताहिक तौर पर सामने आने लगे. विभागीय कार्यक्रम से लौट कर जब एसपी कार्तिक एस ने बोकारो का कार्यभार संभाला तब राष्ट्रीय मुख्यधारा ने उनके साथ एक लघु-साक्षात्कार में इन चोरियों के अलावे भी अन्य मुद्दों पर बात की.

इस लघु-साक्षात्कार में एसपी कार्तिक एस ने बताया कि जैसे हसन चिकना के केस में अंदरूनी कार्रवाई होती रही उसी प्रकार इन तमाम चोरियों पर पुलिस काफी तेज़ी से काम कर रही है और मैं जनता को आस्वस्थ करता हूँ कि ये सभी अपराधी जल्द ही पकड़ कर जनता के सामने लाये जायेंगे. बोकारो की जनता को दहशतज़दा होने कि जरुरत नहीं है.

अलकेमिस्ट आदि ननबैंकिंग कांडों के मामले में बोकारो में हुए धोखाधड़ी में पुलिस की धीमी कार्रवाई पर उन्होंने कहा कि ज्यादातर ननबैंकिंग बगलिंग केसेस सीबीई को ट्रान्सफर हो गए हैं. अलकेमिस्ट केस में जो आरोप लग रहे हैं कि 20 आरोपियों में से 13 लोग को नाम स्थानीय स्तर पर ही पुलिस द्वारा हटा दिया गया तो आरोपपत्र का दाखिला लेते समय के लिए पुलिस अधिकारियों को निर्देश होता है कि वे एविड़ेंसेस के आधार पर ही आरोपियों का नाम दाखिल करे ताकि अदालत में समुचित व पर्याप्त साक्ष्य के साथ ही आरोपपत्र दाखिल किया जाय. पर यहाँ जिस अलकेमिस्ट केस कि बात हो रही है उसपर मैं व्यक्तिगत रूप से रिव्यु करने के बाद ही कुछ ज्यादा बताना चाहूँगा.

साक्षात्कार के अंत में उन्होंने जनता को आस्वस्थ करते हुए पुनः कहा कि बोकारो की जनता को दहशतज़दा होने की कोई जरुरत नहीं है. जनता के सहयोग से पुलिस अपना काम बखूबी निभाएगी.

संबंधित समाचार

error: Content is protected !!